गुजरात सरकार के उद्योग विभाग-एईपीपीएल (AEPPL) कंपनी में समझौता

AEPPL signs MoU with Gujarat govt for lithium-ion battery project
प्रश्न-14 अक्टूबर, 2019 को गुजरात सरकार के उद्योग विभाग और जापानी कंपनी ऑटोमोटिव इलेक्ट्रॉनिक्स पॉवर प्राइवेट लिमिटेड (एईपीपीएल) के बीच लिथियम बैटरी के उत्पादन के विस्तार हेतु समझौता-ज्ञापन हस्ताक्षरित हुआ। इस समझौते के तहत जापानी कंपनी गुजरात के हंसलपुर बेचरामी प्लांट में पहले दो चरणों में कितनी राशि का निवेश करेगी?
(a) 4965 करोड़ रुपये
(b) 4995 करोड़ रुपये
(c) 5,425 करोड़ रुपये
(d) 6,320 करोड़ रुपये
उत्तर-(a)
संबंधित तथ्य
  • 14 अक्टूबर, 2019 को गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी की उपस्थिति में गांधी नगर में गुजरात सरकार के उद्योग विभाग और जापानी कंपनी ऑटोमोटिव इलेक्ट्रॉनिक्स पॉवर प्राइवेट लिमिटेड (एईपीपीएल) के बीच लिथियम बैटरी के उत्पादन का विस्तार करने हेतु समझौता-ज्ञापन हस्ताक्षरित हुआ।
  • इस समझौते के तहत यह जापानी कंपनी गुजरात के हंसलपुर बेचराजी प्लांट में पहले दो चरणों में 4965 करोड़ रुपये का निवेश करेगी।
  • पहले चरण में 1250 करोड़ रुपये की लागत से लिथियम बैटरी पैक और मॉडयूल मैन्युफैक्चरिंग सुविधा का निर्माण वर्ष 2020 के अंत तक किया जाएगा।
  • दूसरे चरण में वितरण के लिए यह कंपनी 3715 करोड़ रुपये का निवेश करेगी और वर्ष 2025 तक प्रतिवर्ष 30 मिलियन सेल का उत्पादन गुजरात में करेगी।
  • एईपीपीएल प्रसिद्ध मोटर निर्माता कंपनी मारूति सुजुकी कारपोरेशन, तोशिषा और डेंसो का संयुक्त उद्यम है।
  • इस परियोजना की आधारशिला हंसलपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने वर्ष 2017 में रखी थी।

लेखक-विजय प्रताप सिंह

संबंधित लिंक भी देखें…

https://auto.economictimes.indiatimes.com/news/auto-components/aeppl-signs-mou-with-gujarat-govt-for-lithium-ion-battery-project/71591009

https://cmogujarat.gov.in/en/guj-govt-signs-mou-with-japans-aeppl-automotive-for-manufacturing-of-li-ion-battery/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.