आर-27 मिसाइल की खरीद हेतु समझौता

air-to-air missiles to be used by Su-30
प्रश्न-जुलाई, 2019 में भारत ने किस देश से हवा-से-हवा में मार करने वाली आर-27 (R-27) मिसाइलों की खरीद हेतु लगभग 1500 करोड़ रुपये के सौदे पर हस्ताक्षर किए हैं?
(a) अमेरिका
(b) रूस
(c) इस्राइल
(d) फ्रांस
उत्तर-(b)
संबंधित तथ्य
  • जुलाई, 2019 में भारत ने रूस से हवा-से-हवा में मार करने वाली आर-27 (R-27) मिसाइलों की खरीद हेतु लगभग 1500 करोड़ रुपये के सौदे पर हस्ताक्षर किए।
  • इन मिसाइलों को भारतीय वायु सेना के सुखोई-30 एमकेआई (SU-30MKI) लड़ाकू विमानों पर तैनात किया जाएगा।
  • विस्तारित रेंज वाली इस रूसी मिसाइल से सुखोई-30 एमकेआई लड़ाकू विमानों की क्षमता में वृद्धि होगी।
  • आर-27 मध्यम से लंबी दूरी तक हवा-से-हवा में मार करने वाली मिसाइल है, जिसे मिग और सुखोई शृंखला के लड़ाकू विमानों के लिए विकसित किया गया है।
  • विगत 50 दिनों में भारतीय वायु सेना ने रक्षा मंत्रालय द्वारा अनुमोदित की गई आपातकालीन आवश्यकताओं के तहत उपकरण की खरीद हेतु 7,600 करोड़ रुपये से अधिक के सौदों पर हस्ताक्षर किए हैं।
  • भारतीय वायु सेना द्वारा स्पाइस-2000, Strum Ataka ATGMs और आपातकालीन खरीद मार्ग के तहत बड़ी संख्या में पुर्जें खरीदने हेतु लगभग 7600 करोड़ रुपये की राशि व्यय की गई है।
  • पुलवामा हमले के बाद, केंद्र सरकार ने तीनों सेनाओं को पाकिस्तान के साथ ही सीमाओं की सुरक्षा हेतु आवश्यक उपकरण की खरीद हेतु आपातकालीन शक्तियां प्रदान की थी।
  • इस प्रदत्त शक्तियों के तहत सुरक्षा बल 3 महीने के भीतर अपनी पसंद  के 300 करोड़ रुपये तक के उपकरण की खरीद कर सकते हैं।

लेखक-विजय प्रताप सिंह

संबंधित लिंक भी देखें…

https://tass.com/defense/1070930

https://eurasiantimes.com/india-to-buy-russian-r-27-missiles-for-su-30-mki-takes-of-bvr-missiles-of-pakistani-f-16s/

https://economictimes.indiatimes.com/news/defence/india-russia-sign-rs-1500-crore-deal-for-air-to-air-missiles-to-be-used-by-su-30/articleshow/70435782.cms

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.