‘ISSAR’ रिपोर्ट‚ 2023

प्रश्न – निम्न कथनों पर विचार कीजिए-
(i) 2 अप्रैल‚ 2024 को इसरो के अध्यक्ष एस. सोमनाथ द्वारा भारतीय अंतरिक्ष स्थिति आकलन रिपोर्ट (ISSAR), 2023 प्रस्तुत की गई।
(ii) इसरो के सिस्टम फॉर सेफ एंड सस्टेनेबल स्पेस ऑपरेशंस मैनेजमेंट (IS4OM) द्वारा इसे संकलित किया गया है।
(iii) रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2022 की तुलना में वर्ष 2023 में अधिक अंतरिक्ष वस्तुएं कक्षा में स्थापित की गई हैं।
निम्नलिखित में से कौन-सा/से कथन सत्य है/हैं?
(a) (i), (ii) एवं (iii)
(b) (i) एवं (ii)
(c) (i) एवं (iii)
(d) (ii) एवं (iii)
उत्तर – (a)
संबंधित तथ्य –

  • भारतीय अंतरिक्ष युग की शुरुआत के बाद से 31 दिसंबर‚ 2023 तक निजी ऑपरेटरों/शैक्षणिक संस्थानों सहित कुल 127 भारतीय उपग्रह लॉन्च किए गए हैं।
  • रिपोर्ट के अनुसार भारतीय अंतरिक्ष संपत्तियों की सुरक्षार्थ हेतु वर्ष 2023 के दौरान 23 सीएएम (Collision Avoidance Manoeuvres) किए गए‚ जबकि वर्ष 2022 में 21 और वर्ष 2021 में 19 किए गए थे।
  • रिपोर्ट के अनुसार इसरो ने वर्ष 2023 में उपग्रहों की सुरक्षा के लिए 23 टकराव टालने वाले अभियानों को अंजाम दिया है।
  • 31 दिसंबर‚ 2023 तक सरकार के स्वामित्व वाले परिचालन उपग्रहों की संख्या में भारत का लो अर्थ ऑर्बिट में 22वां और जियोसिंक्रोनस अर्थ आर्बिट में 29वां स्थान है।
  • रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2023 में भारतीय प्रक्षेपणों द्वारा 82 रॉकेट निकायों को कक्षा में स्थापित किया गया है।
  • ध्यातव्य है कि इसरो नियमित रूप से भारतीय अंतरिक्ष संपत्तियों के लिए अन्य अंतरिक्ष वस्तुओं के करीबी दृष्टिकोण की भविष्यवाणी करने के लिए IS4OM – ISTRAC के माध्यम से विश्लेषण करता है।

लेखक – नवनीत सिंह

संबंधित लिंक भी देखें…

https://www.isro.gov.in/Indian_Space_Situational_Assessment_Report_ISSAR2023.html