संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण सभा का चौथा सत्र, 2019

प्रश्न-11-15 मार्च, 2019 के मध्य संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण सभा का चौथा सत्र कहां संपन्न हुआ?
(a) नई दिल्ली
(b) दोहा
(c) बैंकाक
(d) नैरोबी
उत्तर-(d)
संबंधित तथ्य

  • 11-15 मार्च, 2019 के मध्य संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण सभा का चौथा सत्र (4th Session of the UN Enviroment Assembly), 2019 नैरोबी, केन्या में संपन्न हुआ।
  • मुख्य विषय (Theme)- ‘‘ पर्यावरण की चुनौतियों तथा सतत उत्पादन व खपत के लिए नवोन्मेषी समाधान’’ (Innovative Solutions for environmental challenge and sustainable consumption and production)।
  • पहली बार भारत ने चौथे संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण सभा में प्रमुख पर्यावरण मुद्दों-एकल-उपयोग प्लास्टिक और सतत नाइट्रोजन प्रबंधन पर आधारित दो प्रस्तावों की अगुवाई की।
  • सभा ने सर्वसम्मति से दोनों प्रस्तावों पर स्वीकृति दे दी है।
  • उल्लेखनीय है कि वैश्विक स्तर पर नाइट्रोजन उपयोग में दक्षता का अभाव है।
  • परिणामस्वरूप, प्रतिक्रियाशील नाइट्रोजन प्रदूषण करता है जो मानव स्वास्थ्य पर्यावरण प्रणाली और सेवाओं के लिए खतरा है।
  • उत्पादित प्लास्टिक का अधिकांश भाग पर्यावरण और जलीय जैव-विविधता को नुकसान पहुंचाता है।
  • ये दोनों वैश्विक चुनौतियां हैं।
  • भारत के ये दोनों प्रस्ताव इस समस्या के समाधान तथा विश्व समुदाय का ध्यान आकर्षित करने की दिशा में पहला कदम हैं।

लेखक-विवेक कुमार त्रिपाठी

संबंधित लिंक भी देखें…

https://sdg.iisd.org/events/fourth-session-of-the-un-environment-assembly-unea-4/

https://www.unenvironment.org/news-and-stories/press-release/world-pledges-protect-polluted-degraded-planet-it-adopts-blueprint?_ga=2.192722793.291651981.1553068062-1550440768.1553068062

http://web.unep.org/environmentassembly/node/42630

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.