मंत्रिमंडल द्वारा सार्क सदस्य देशों के लिए मुद्रा विनिमय रूपरेखा में संशोधन की मंजूरी

Cabinet approves Amendment to the ‘Framework on Currency Swap Arrangement for SAARC Member Countries

प्रश्न-23 जनवरी, 2019 को केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा सार्क सदस्य देशों के लिए मुद्रा स्वैप व्यवस्था में संशोधन के तहत कितने डॉलर की अतिरिक्त सुविधा को शामिल किया गया है।
(a) 100 मिलियन अमेरिकी डॉलर
(b) 200 मिलियन अमेरिकी डॉलर
(c) 400 मिलियन अमेरिकी डॉलर
(d) 800 मिलियन अमेरिकी डॉलर
उत्तर-(c)
संबंधित तथ्य

  • 23 जनवरी, 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाले केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सार्क सदस्य देशों के लिए मुद्रा विनिमय व्यवस्था के ढांचे में संशोधन को मंजूरी दे दी है।
  • इस संशोधन के तहत 400 मिलियन अमेरिकी डालर की अतिरिक्त सुविधा शामिल है।
  • अन्य महत्वपूर्ण तथ्य
  • अल्पावधि विदेशी मुद्रा आवश्यकताओं के लिए या दीर्घकालीन व्यवस्था किये जाने तक भुगतान के संतुलन को पूरा करने के निमित्य मंत्रिमंडल ने 1 मार्च, 2012 को SAARC सदस्य देशों के लिए मुद्रा स्वैप (विनिमय) व्यवस्था पर एक फ्रेमवर्क को मंजूरी दी थी।
  • सुविधा के तहत RBI प्रत्येक SAARC सदस्य देश को USD, Euro या INR में अलग-अलग आकार के स्वैप प्रदान करता है, जो उनकी 2 महीने की आयात आवश्यकता पर निर्भर करता है और कुल मिलाकर 2 बिलियन U.S. डॉलर से अधिक नहीं होता था।
  • इस समझौते ने भारत को इस क्षेत्र से वित्तीय स्थिरता में सुधार के साथ सार्क देशों के साथ अपने संबंधों को मजबूत किया है।
  • SAARC – South Asian Association of Reasonal Co-operation (दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन) का संक्षिप्त रूप है।
  • इसकी स्थापना 8 दिसंबर, 1985 को भारत, बांग्लादेश पाकिस्तान, नेपाल, श्रीलंका, मालदीव व भूटान को मिलाकर की गयी थी। अप्रैल 2007 में संघ के 14वें शिखर सम्मेलन में अफगानिस्तान इसका आठवां सदस्य बना।

संबंधित लिंक भी देखें…

http://pib.nic.in/PressReleaseIframePage.aspx?PRID=1561075

https://www.business-standard.com/article/news-ani/cabinet-approves-amendment-to-framework-on-currency-swap-pact-for-saarc-countries-119012301398_1.html

http://saarc-sec.org/about-saarc

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.