फोर्ब्स इंडिया नेतृत्व पुरस्कार-2015

Forbs India Ieadership Award-2015

प्रश्न-अभी हाल में ही प्रदान किए गए फोर्ब्स इंडिया नेतृत्व पुरस्कार-2015 में किस उद्यमी को वर्ष के उद्यमी पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया?
(a) उदय कोटक
(b) सी.पी.गुटनानी
(c) उदय शंकर
(d) समित घोष
उत्तर-(a)
संबंधित तथ्य

  • 30 सितंबर, 2015 को फोर्ब्स इंडिया नेतृत्व पुरस्कार 2015 (Forbes India leadership Awards-2015) का वितरण ग्रांड हयात होटल मुंबई में किया गया।
  • इस वर्ष निम्न लोग विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कृत किए गये-
  • वर्ष के उद्यमी (Entrepreneur of the year)-उदय कोटक (अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक कोटक महिन्द्रा बैंक)
  • सर्वोत्तम मुख्य कार्यकारी अधिकारी-निजी क्षेत्र-सी.पी. गुरनानी (मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं प्रबंध निदेशक, टेक महिन्द्रा लिमिटेड)
  • सर्वोत्तम मुख्य कार्यकारी अधिकारी-सार्वजनिक क्षेत्र-अरुन्धती भट्टाचार्य (अध्यक्ष, भारतीय स्टेट बैंक)
  • सर्वोत्तम मुख्य कार्यकारी अधिकारी-बहुराष्ट्रीय कंपनी-उदय शंकर (मुख्य कार्यकारी अधिकारी, स्टार इंडिया प्रा.लिमिटेड)
  • आउस्टैंडिंग स्टार्टअप- ओला (OLA)\
  • वर्ष के जागरूक पूंजीवादी-गुजरात सहकारी दूध वितरण संघ लिमिटेड और गोदरेज कंज्यूमर प्रोडक्ट लिमिटेड
  • अगली पीढ़ी का उद्यमी (NextGen Entrepreneur)- सिद्धार्थ लाल (प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी, आयसर मोटर्स लिमिटेड)
  • सामाजिक प्रभाव के साथ उद्यमी -समित घोष (मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक उज्जीवन फाइनेंशियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड)
  • आजीवन उपलब्धि (Lifetime Achievment) आर.सी. भार्गव (सुजुकी इंडिया लिमिटेड)
  • ध्यातव्य है कि प्रथम बार फोर्ब्स इंडिया नेतृत्व पुरस्कार वर्ष 2011 में प्रदान किए गये थे।
  • इस पुरस्कार का उद्देश्य देश के उन श्रेष्ठ उद्यमियों और संगठनों का सम्मान करना है। जिन्होंने परिवर्तनकारी नेतृत्व, दूरदर्शिता और व्यावसायिक नैतिकता के माध्यम से सफलता अर्जित की है।

संबंधित लिंक भी देखें…
http://forbesindia.com/awards/leadership/
http://forbesindia.com/awards/leadership/winner2015.html

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.