पृथ्वी-2 मिसाइल का सफल रात्रिकालीन परीक्षण

Prithvi-2 missile successfully testfired at night
प्रश्न-20 नवंबर, 2019 को भारत ने स्वदेश निर्मित परमाणु सक्षम, पृथ्वी-2 मिसाइल का एकीकृत परीक्षण रेंज, चांदीपुर से सफल रात्रिकालीन परीक्षण किया। इसकी मारक क्षमता है-
(a) 950 किमी.
(b) 350 किमी.
(c) 550 किमी.
(d) 1010 किमी.
उत्तर-(b)
संबंधित तथ्य
  • 20 नवंबर, 2019 को भारत ने ओडिशा के बालासोर जिले के चांदीपुर स्थित एकीकृत परीक्षण रेंज से स्वदेश निर्मित परमाणु सक्षम पृथ्वी-2 मिसाइल का सफल रात्रिकालीन परीक्षण किया।
  • पृथ्वी-2 का यह परीक्षण सेना के सामरिक बल कमान (SFC) द्वारा नियमित प्रयोक्ता परीक्षण के तहत किया गया।
  • उल्लेखनीय है कि पृथ्वी-2 सतह-से सतह पर मार करने वाली मिसाइल है।
  • इसकी मारक क्षमता 350 किमी. है।
  • इसे रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) द्वारा एकीकृत निर्देशित मिसाइल विकास कार्यक्रम के तहत विकसित किया गया है।
  • इसकी लंबाई लगभग 9 मीटर है तथा यह एकल चरणीय द्रव प्रणोदक चालित मिसाइल है।
  • यह 500 से 1000 किग्रा. तक का युद्धसामग्री (Warhead) ले जाने में सक्षम है।
  • गौरतलब है कि सेना के सामरिक बल कमान में इस मिसाइल की तैनाती वर्ष 2003 में हुई थी।
  • ज्ञातव्य है कि इससे पूर्व 27 जून, 2019 को पृथ्वी-2 का सफल रात्रिकालीन परीक्षण किया गया था।

लेखक-विवेक कुमार त्रिपाठी

संबंधित लिंक भी देखें…

https://www.thehindu.com/news/national/prithvi-2-missile-successfully-testfired-at-night/article30029101.ece

https://economictimes.indiatimes.com/news/defence/nuclear-capable-prithvi-2-missile-successfully-testfired-at-night/articleshow/72147446.cms

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.