नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड (खपलांग) आतंकी संगठन घोषित

Government declares NSCN (K) as terrorist organization under UAPA

प्रश्न-एनएससीएन (के) के मुखिया का क्या नाम है?
(a) एस.एस.खपलांग
(b) वाई.एस.खपलांग
(c) परेस बरूआ
(d) आई.के. सोंगबिजित
उत्तर-(a)
संबंधित तथ्य

  • 6 नवंबर, 2015 को गृह मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार सरकार ने नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड (खपलांग) (NSCN (K) और उसकी सभी शाखाओं को आतंकी संगठन घोषित कर दिया।
  • सरकार ने इस संगठन को गैरकानूनी गतिविधि (प्रतिबंध) अधिनियम, 1967 के तहत प्रतिबंधित किया है।
  • एनएससीएन (के) एक उग्रवादी संगठन है जो कि वर्ष 1988 में अस्तित्व में आया।
  • यह भारत और म्यांमा की सीमा पर सक्रिय है तथा विभिन्न वारदातें करता रहता है।
  • ध्यातव्य है कि यह संगठन 04 जून, 2015 को मणिपुर के चंदेल जिले में सैन्य दल पर हमले के लिये जिम्मेदार है।
  • इस हमले में डोगरा रेजीमेंट की छठवीं बटालियन के अठ्ठारह जवान मारे गये थे।

संबंधित लिंक भी देखें…
http://pib.nic.in/newsite/PrintRelease.aspx?relid=130500

One thought on “नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड (खपलांग) आतंकी संगठन घोषित”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.