दूधनाथ सिंह

दूधनाथ सिंह

प्रश्न-हाल ही में दूधनाथ सिंह का निधन हो गया। वह थे-
(a) राजनेता
(b) साहित्यकार
(c) मानवाधिकार कार्यकर्ता
(d) पर्यावरणविद्
उत्तर-(b)
संबंधित तथ्य

  • 12 जनवरी, 2018 को हिंदी के प्रसिद्ध कथाकार, कवि और आलोचक दूधनाथ सिंह का निधन हो गया। वह 81 वर्ष के थे।
  • उनका जन्म 17 अक्टूबर, 1936 को बलिया (उ.प्र.) में हुआ था।
  • उनकी गिनती हिन्दी के शीर्ष लेखकों और चिंतकों में होती थी।
  • वह जनवादी लेखक संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी थे।
  • उनकी प्रमुख रचनाओं में ‘आखिरी कलाम’, ‘लौट आ ओ धार’, ‘निरालाः आत्महंता आस्था’ , ‘यमगाथा’ , ‘धर्मक्षेत्रे-कुरूक्षेत्रे’ , ‘अगली शताब्दी के नाम’ , ‘सपाट चेहरे वाला आदमी’ और ‘युवा खुशबू’ शामिल हैं।
  • उन्हें उत्तर प्रदेश के सर्वोच्च साहित्यिक सम्मान भारत-भारती, मध्य प्रदेश के शीर्ष सम्मान मैथिलीशरण गुप्त सम्मान से सम्मानित किया गया था।

संबंधित लिंक
https://www.bhaskar.com/uttar-pradesh/allahabad/news/UP-ALAH-LCL-famous-hindi-writer-doodhnath-singh-passes-away-5789823-PHO.html

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.