चीन के उपराष्ट्रपति की भारत यात्रा

Visit of Vice President of the People's Republic of China to India

प्रश्न-हाल ही में चीन के उपराष्ट्रपति भारत की यात्रा पर रहे। चीन के उपराष्ट्रपति हैं-
(a) शी जिनपिंग
(b) ली युवानचाओ
(c) ली केकियाग
(d) ली युचेंग
उत्तर-(b)
संबंधित तथ्य

  • भारत के उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के निमंत्रण पर चीन जनवादी गणराज्य (People’s Republic of China) के उपराष्ट्रपति ली युवानचाओ 3 से 7 नवंबर, 2015 के दौरान भारत के दौरे पर रहे।
  • उल्लेखनीय है कि 1 अप्रैल, 1950 को भारत चीन जनवादी गणराज्य के साथ राजनयिक संबंध स्थापित करने वाला पहला गैर समाजवादी ब्लाक का देश बना।
  • इस यात्रा के दौरान चीन के उपराष्ट्रपति ने औरंगाबाद स्थित अजन्ता की गुफाओं का अवलोकन किया।
  • 5 नवंबर, 2015 को उपराष्ट्रपति युवानचाओ ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ बैठक की।
  • 6 नवंबर, 2015 को उपराष्ट्रपति युवानचाओ ने भारत के उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के साथ दिल्ली स्थिति हैदराबाद हाउस में द्विपक्षीय बैठक की।
  • इसके बाद उपराष्ट्रपति युआनचाओ ने प्रधानमंत्री के साथ मुलाकात की।
  • दोनों नेताओं ने भारत एवं चीन के बीच सहयोग के लिए रेलवे, स्मार्ट सिटीज, बुनियादी ढांचे एवं शहरी परिवहन में अवसरों को रेखांकित किया।
  • इसके साथ ही दोनों नेताओं ने इस बात पर सहमति जताई कि भारत और चीन के बीच शांतिपूर्ण, सहयोगात्मक एवं स्थिर संबंध क्षेत्रीय एवं वैश्विक शांति एवं समृद्धि के लिए अहम हैं।
    वाणिज्यिक एवं आर्थिक संबंध
  • पिछले कुछ वर्षों में दोनों देशों के बीच व्यापार एवं आर्थिक संबंधों में तेजी से प्रगति हुई है।
  • भारत-चीन द्विपक्षीय व्यापार, जो वर्ष 2000 में मात्र 2.92 बिलियन अमेरिकी डॉलर था, जो वर्ष 2008 में बढ़कर 41.85 बिलियन अमेरिकी डॉलर पर पहुंच गया।
  • जिससे संयुक्त राज्य अमेरिका को प्रतिस्थापित करते हुए माल के व्यापार में चीन भारत का सबसे बड़ा व्यापार साझेदार बन गया।
  • वर्ष 2014 तक भारत-चीन द्विपक्षीय व्यापार का मूल्य 70.05 बिलियन अमेरिकी डॉलर था।

संबंधित लिंक भी देखें…
www.mea.gov.in/incoming-visit-info-hi.htm?1/824/Visit+of+Vice+President+of+the+Peoples+Republic+of+China+to+India+November+37+2015
http://www.indianembassy.org.cn/DynamicContent.aspx?MenuId=97&SubMenuId=0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.