केसीसी सुविधा

Govt extends Kisan Credit Card facility to fisheries, animal husbandry sector
प्रश्न-किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) सुविधा के तहत पशुपालन और मछली पालन करने वाले किसानों को ऋण संवितरण के समय कितने प्रतिशत प्रतिवर्ष की दर से ब्याजा में छूट प्रदान की जाती है?
(a) 2 प्रतिशत
(b) 3 प्रतिशत
(c) 4 प्रतिशत
(d) 5 प्रतिशत
उत्तर-(a)
संबंधित तथ्य
  • 2 जुलाई, 2019 को केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी राज्यमंत्री प्रताप चंद्र सारंगी ने लोकसभा में एक प्रश्न के उत्तर में जानकारी प्रदान की कि सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) की सुविधा को मत्स्य पालन और पशुपालन किसानों तक बढ़ा दिया है, जिससे उनकी कार्यशील आवश्यकताएं पूरी हो सके।
  • केसीसी सुविधा के विस्तार से मत्स्यपालन और पशुपालन करने वाले किसानों को पशु, मुर्गी पालन और अन्य जलीय जीवों के पालन और मछली पकड़ने में किसानों की अल्पकालिक ऋण आवश्यकताओं को पूरा करने में मदद मिलेगी।
  • किसान क्रेडिट कार्ड सुविधा के तहत मौजूदा केसीसी धारकों के लिए उनकी कार्यशीली पूंजी की आवश्यकताओं को पूरा करने हेतु क्रेडिट सीमा 3 लाख रुपये है।
  • केसीसी के तहत पशुपालन और मछली पालन करने वाले किसानों के ब्याज में ऋण के संवितरण के समय 2 प्रतिशत प्रतिवर्ष की दर से ब्याज में छूट प्रदान की जाती है।
  • साथ ही शीघ्र पुनर्भुगतान के मामले में प्रतिवर्ष 3 प्रतिशत अतिरिक्त ब्याज उपकर प्रदान किया जाता है।

लेखक-विवेक प्रताप सिंह

संबंधित लिंक भी देखें…

http://www.newsonair.com/Main-News-Details.aspx?id=367869

http://pib.nic.in/newsite/PrintRelease.aspx?relid=191094

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.