केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा नागरिकता (संशोधन) विधेयक, 2019 को मंजूरी

Union Cabinet clears Citizenship (Amendment) Bill
प्रश्न-4 दिसंबर, 2019 को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने नागरिकता (संशोधन) विधेयक, 2019 को मंजूरी दी। इससे संबंधित निम्न कथनों पर विचार कीजिए-
(i) इस विधेयक का उद्देश्य पाकिस्तान एवं बांग्लादेश के 6 अल्पसंख्यक समुदायों को भारतीय नागरिकता प्रदान करना है।
(ii) 6 अल्पसंख्यक समुदायों में हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, ईसाई और पारसी समुदाय शामिल हैं।
उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से कथन सही है/हैं?

(a) केवल (ii)
(b) केवल (i)
(c) (i) एवं (ii) दोनों
(d) उपर्युक्त में से कोई नहीं
उत्तर-(a)
संबंधित तथ्य
  • 4 दिसंबर, 2019 को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने नागरिकता (संशोधन) विधेयक (Citizenship Amendment Bill), 2019 को मंजूरी दी।
  • इस विधेयक का उद्देश्य पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के 6 अल्पसंख्यक समुदायों को भारतीय नागरिकता प्रदान करना है।
  • 6 अल्पसंख्यक समुदायों में हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, ईसाई और पारसी समुदाय शामिल हैं।
  • विधेयक में पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से भारत आए अप्रवासियों को नागरिकता देने का प्रावधान है बशर्ते कि वो उन देशों के बहुसंख्यक यानि मुस्लिम समुदाय से न हो।
  • उल्लेखनीय है कि वर्तमान में किसी व्यक्ति को भारतीय नागरिकता प्राप्त करने के लिए उसे 11 वर्षों तक देश में रहना चाहिए।
  • प्रस्तावित विधेयक में इसे संशोधित करके 6 वर्ष करने का प्रस्ताव है।
  • नागरिकता अधिनियम, 1955 को संशोधन करने वाले इस विधेयक को लोक सभा में पेश किया जाएगा।
  • ज्ञातव्य है कि इससे पहले नागरिकता (संशोधन) विधेयक को 19 जुलाई, 2016 को लोक सभा में पेश किया गया था।

लेखक-विवेक कुमार त्रिपाठी

संबंधित लिंक भी देखें…

http://www.newsonair.nic.in/Main-News-Details.aspx?id=375590

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.