ईरान द्वारा परमाणु समझौते का उल्लंघन

IAEA confirms Iran exceeds enriched uranium stockpile limit
प्रश्न-ईरान और पी 5+1 के मध्य परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर कब किए गए थे?
(a) वर्ष 2015 में
(b) वर्ष 2016 में
(c) वर्ष 2017 में
(d) वर्ष 2018 में
उत्तर-(a)
संबंधित तथ्य
  • 1 जुलाई, 2019 को अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (IAEA) के पर्यक्षकों ने सत्यापित किया कि ईरान ने निर्धारित 300 किग्रा. यूरेनियम भंडार की सीमा का उल्लंघन किया है।
  • ध्यातव्य है कि वर्ष 2015 में ईरान और पी-5+1 (संयुक्त राज्य अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, फ्रांस, चीन, रूस एवं जर्मनी) के मध्य एक परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे।
  • उक्त समझौते के अंतर्गत संयुक्त व्यापक कार्य योजना’ (JCPOA) के प्रति प्रतिबद्धता व्यक्त की गई थी।
  • इसके तहत 15 वर्षों के लिए ईरान के यूरेनियम भंडार को घटाकर 98% (300 किग्रा.) तक किया जाना था।
  • इसके अतिरिक्त ईरान को 3.67% तक संवर्धित यूरेनियम भंडार रखने की अनुमति थी।
  • 1 जुलाई, 2019 को ईरान ने घोषणा की थी कि वर्ष 2015 के परमाणु समझौते के तहत निर्धारित कम संवर्धित यूरेनियम की सीमा को तोड़ दिया है।
  • ध्यातव्य है कि 3%-4% तक संवर्धित यूरेनियम का उपयोग नाभिकीय ऊर्जा संयंत्रों में किया जाता है जबकि 90% तक संवर्धित यूरेनियम का उपयोग हथियार बनाने के लिए किया जाता है।

संबंधित लिंक भी देखें…

https://www.bbc.com/news/world-middle-east-48784786

https://www.business-standard.com/article/pti-stories/iaea-confirms-iran-exceeds-enriched-uranium-stockpile-limit-119070101041_1.html

https://www.business-standard.com/article/pti-stories/iaea-confirms-iran-exceeds-enriched-uranium-stockpile-limit-119070101041_1.html

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.